BRICS देशो का समूह

अंग्रेज़ी अक्षरों BRICS से बना शब्द ‘ब्रिक्स’ दुनिया की पांच उभरती हुई अर्थव्यवस्थाओं का एक समूह है।

जैसा कि नाम से अनुमान लगाया जा सकता है, ये देश हैं – ब्राज़ील, रुस, भारत, चीन और दक्षिण अफ़्रीका

दक्षिण अफ़्रीका के इस आर्थिक समूह से जुड़ने से पहले इसे ‘ब्रिक’ ही कहा जाता था.

ब्रिक देशों की पहली शिखर स्तर की आधिकारिक बैठक 16 जून 2009 को रुस के येकाटेरिंगबर्ग में हुई.

लेकिन इससे पहले ब्रिक देशों के विदेश मंत्री मई 2008 में एक बैठक कर चुके थे.

इसके बाद वर्ष 2010 में ब्रिक का शिखर सम्मेलन ब्राज़ील की राजधानी ब्रासिलीया में हुई.

वर्ष 2011 में इस आर्थिक समूह का शिखर सम्मेलन चीन के सानया शहर में हुआ।

2012 ब्रिक्स शिखर सम्मेलन, ब्रिक्स देशों का चौथा वार्षिक शिखर सम्मेलन है, जिसमें इसके पाँच सदस्य राष्ट्रों ब्राजील, रूस, भारत, चीन और दक्षिण अफ्रीका के राष्ट्र या सरकार प्रमुखों ने भाग लिया। शिखर सम्मेलन का आयोजन भारत की राजधानी नई दिल्ली स्थित पाँच सितारा होटल ताज महल में 29 मार्च 2012 को किया गया था।

2013 ब्रिक्स शिखर सम्मेलन दक्षिण अफ्रीका के डरबन शहर में आयोजित किया गया।

2014 ब्रिक्स शिखर सम्मेलन 15-16 जुलाई 2014 को ब्राज़ील के फोर्टालेज़ा और ब्रासीलिया में आयोजित किया गया। इस शिखर सम्मेलन का मुख्य विषय रहा- ”समावेशी वृद्धि, सतत विकास”।

2016 ब्रिक्स शिखर सम्मेलन ब्रिक्स देशों का आठवाँ वार्षिक शिखर सम्मेलन है। इसका आयोजन भारत के शहर गोवा में 15 से 16 अक्टूबर 2016 को किया गया। इसमें पाँचों सदस्य देशों – ब्राज़ील, रूस, भारत, चीन व दक्षिण अफ्रीका- के राष्ट्र प्रमुखों ने भाग लिया। ब्रिक्स की अध्यक्षता फरवरी 2016 से दिसम्बर 2016 तक भारत के पास है।

2017 ब्रिक्स शिखर सम्मेलन वर्तमान में ब्रिक्स का नौवां वार्षिक शिखर सम्मेलन है, जिसमें पांच सदस्यीय देशों ब्राजील, रूस, भारत, चीन और दक्षिण अफ्रीका की सरकारों के प्रमुख हिस्सा लेते है। इस शिखर सम्मेलन का आयोजन चीन के शियामेन शहर में हुआ, इसके अलावा चीन ने 2011 में भी ब्रिक्स शिखर सम्मेलन की मेजबानी कर चुका है।

share this





Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *